Profile

Join date: Apr 28, 2022

About



कोरोना एक प्राण घातक रोग है और इससे बचाव ही इसकी दवा है। यह रोग चीन के वुहान शहर से शुरू हो कर पूरे विश्व में फ़ैल गया और इतना विकराल हो गया की भारत जैसे देश को पूरी तरह बंद घोषित कर दिया गया।

आईये इसे विस्तार में जानते हैं।

कोरोना एक जान लेवा बीमारी है, जो कभी भी और किसी को भी हो सकता है। इस लिये बताइ गई सावधानी अवश्य बरतें और सतर्क रहें। बच्चों को भी समझाए और हाथ धुलने की आदत उनमे भी सिखाये और इस बीमारी को दुनिया से ख़तम करने की जंग में एक बहुमूल्य योगदान अपना भी दे।

जितने केस आ रहे हैं उनमे से कई पूरी तरह ठीक भी हो चुके हैं। सबसे अहम् बात यह है की अपने खान-पान पर ध्यान दें और अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करें, इससे बचने का यही मात्र उपाय है। इसके साथ ही जो बचाव के उपाय बताये गए हैं इनका सख्ती से पालन करें।

सतर्क रहें स्वास्थ्य रहें और कोरोना को दूर भगाएं। सरकार द्वारा उठाये गए क़दमों का पालन करें और उनके दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करें। आज तक कई महामारी आचुके हैं और जब हम सबको हरा सकते हैं तो ये कौनसी बड़ी बिमारी है। दूसरों के चक्कर में पड़ने से अच्छा है अपनी रक्षा करें, यही काफी है।

कोरोना या कोविड-19 एक वायरस के तौर पर सबसे पहले चाइना के वुहान शहर मे सामने आया था। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे माहामारी करार दिया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (W.H.O.) के अनुसार इस वायरस के लक्षण आम तौर से सर्दी-जुकाम जैसी ही होते है। इस वायरस के खात्मे के लिए लगभग सारे देश ही दवा और वैक्सिन बनाने मे लगे हुए है। जब तक इस वायरस का कोई ठोस इलाज नहीं मिल जाता है तब तक हमें सावधानी से रहने की आवश्यकता है।

कोविड-19 संक्रमण भारत सहित आज दुनिया के लगभग 180 देशों से अधिक देश प्रभावित है, और इससे अब तक तकरीबन 1 करोड़ 30 लाख लोग प्रभावित हो चुके है। और काफी मात्रा मे लोग इससे ठीक भी हो चुके है। इस वायरस के कारण अब तक लगभग 5 लाख लोगों की मौत भी हो चुकी है। दुनियां भर के वैज्ञानिक स्वास्थ संगठन के साथ मिलकर इसकी वैक्सिन या दवा इजात करने के प्रयास मे लगे है। लगभग 100 वर्ष पूर्व 1910 मे हैजा (कॉलरा) महामारी के कारण विश्व भर मे तकरीबन 8 लाख से अधिक मौत हुई थी, और आज लगभग पूरा विश्व इस महामारी से ग्रसित है। इस जानलेवा बीमारी से घबराने की आवश्यकता नही है। विश्व स्वास्थ संगठन और स्वास्थय मंत्रालय के नियमों का पालन करके बचा जा सकता है। जितना हो सके दूसरे व्यक्तियों के संपर्क मे आने से बचे और स्वस्थ रहे।


Comments:


I love you bby,,

He is from my district

look this is the problem of uni study you get higher marks for summary/integration of others' ideas but you dont get credit (or even losing marks) for ingenuity/novelty

madam sahiba, are u taking classes for css essay preparation in any acadmy or online system ?

Sir very very beautiful writing

Greattt

Part 2 please for different kinds of essay. 💅💖

Me who has a big writing exam tomorrow 🤡

Why do you need a facecam

My pleasure! I'm glad you enjoyed it.

& your handwriting 🥰🥰🥰wow.... sister

Love from India ❤️

Good instructions on technical writing. This is a handy reference for novice writers.

I'm taking test tommorow wish me luck and good luck to you guys as well...

It helped my project thanks mam

This really helps I just took it thank you so much 😊

Hi sir, do you conduct any online classes. If yes, please let me know.

Honestly, I was quiet surprised when seeing the question ''does this mean that it is also easier to connect and form meaningful relationships with others?''. Is it right? Coz I am taught that ielts writing task 2 should not contain any question, because we basically present our opinions, not asking the examiner so it is quite confusing for me.

THANK YOU, ATE LYQA

How I got a First Class in EVERY Essay at University ? - thru good looks? :)

So amazing writer but very bad writer

U speak well n calm way

This video helped me alot it broke everything down nicely

Essay Writing On Covid 19 In Hindi

More actions